Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Rajasthan | इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना राजस्थान 2023, ऑनलाइन अप्लाई

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना राजस्थान 2023, शुरू कब हुई, लागू कब हुई, निबंध, ऑनलाइन अप्लाई, दस्तावेज, पात्रता, लाभार्थी, अधिकारिक वेबसाइट, हेल्पलाइन नंबर (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Rajasthan) (Kab Start hui, Nibandh, Online Apply, Beneficiary, Official Website, Eligibility, Documents, Helpline Number)

भारत की पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी के नाम पर चिंतन करते हुए राजस्थान सरकार ने एक कल्याणकारी योजना शुरू की है। सरकार ने इस योजना का नाम इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना रखा है।

सरकार द्वारा इस योजना के तहत राजस्थान राज्य की ऐसी महिलाओं को शामिल किया गया है जो दूसरी बार मां बनने वाली हैं, यानी बच्चे को जन्म देने वाली हैं। योजना के तहत सरकार दूसरी बार जन्म देने वाली महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।

ताकि महिलाएं अपना और अपने बच्चों का ठीक से ख्याल रख सकें। आइए इस पेज पर जानते हैं कि, इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना क्या है? और “इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लिए आवेदन कैसे करें।

Table of Contents

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के बारे में हम आपको कुछ जरूरी सूचना देने जा रहें हैं। इन सूचनाओं के बारे में जानने के लिए आप नीचे दी गयी सारणी देख सकते हैं। आइये देखते हैं ..

योजना का नाम इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना
कब शुरू की गयी 19 नवम्बर 2020
विभाग चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग राजस्थान
महिला एवं बाल विकास विभाग
योजना शुरू की गयी महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश जी के द्वारा
लाभार्थी राज्य में दूसरे बच्चे को जन्म देने वाली गर्भवती महिलाएं
उद्देश्य महिलाओं के स्वास्थ्य देखभाल के लिए आर्थिक सहायता देना
लाभ 6,000 रुपये सहायता राशि
श्रेणी राजस्थान सरकारी योजनाएं
वर्तमान साल 2023
आधिकारिक वेबसाइट wcd.rajasthan.gov.in

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना क्या है? Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Kya hai?

राजस्थान राज्य की गर्भवती महिलाओं के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री द्वारा इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना शुरू की गई है। यह योजना श्रीमती इंदिरा गांधी की 103वीं जयंती पर शुरू की गई है। इसलिए योजना का नाम इंदिरा गांधी के नाम पर रखा गया है।

सरकार ने कहा है कि योजना के तहत राजस्थान राज्य की गर्भवती महिलाओं को लगभग 5 चरणों में ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। वर्तमान में सरकार द्वारा यह योजना कुछ ही जिलों में शुरू की जा रही है और धीरे-धीरे इस योजना का विस्तार राजस्थान के सभी जिलों में किया जाएगा।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का उद्देश्य

राजस्थान में हर साल कई महिलाएं गर्भवती हो जाती हैं और एक बच्चे को जन्म देती हैं, लेकिन आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण वे शुरू में अपने बच्चे को उचित पोषण नहीं दे पाती हैं, जिसके कारण बच्चे बचपन में ही कुपोषित हो जाते हैं।

इसलिए सरकार ने इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना शुरू की है, ताकि योजना के तहत मिलने वाले पैसे का उपयोग माताओं द्वारा अपने बच्चों की बेहतर परवरिश के लिए किया जा सके और उस पैसे से उन्हें बच्चों के लिए पौष्टिक भोजन मिल सके, ताकि बच्चे स्वस्थ हो सकते हैं। और राजस्थान राज्य में बाल कुपोषण की दर में भी कमी आई है।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना में किस्तें (Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Installments)

  • योजना के अंतर्गत पहली इंस्टॉलमेंट गर्भावस्था जांच और पंजीकरण होने पर ₹1000 की मिलेगी।
  • दूसरी इंस्टॉलमेंट ₹1000 की प्रेगनेंसी के पहले जांच होने पर मिलेगी।
  • तीसरी इंस्टॉलमेंट ₹1000 की संस्थागत प्रेगनेंसी होने पर मिलेगी।
  • चौथी इंस्टॉलमेंट ₹2000 की बच्चे के जन्म के 105 दिन तक सभी नियमित वैक्सीन लगने और बच्चे के जन्म का पंजीकरण होने पर मिलेगी।
  • योजना के अंतर्गत पांचवी इंस्टॉलमेंट के तौर पर ₹1000 तब मिलेंगे, जब बच्चे के पैदा होने के 3 महीने के दरमियान ही परिवार नियोजन के साधन अपनाए जाएंगे।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत दी जाने वाली आर्थिक सहायता

अब हम आपको दी गयी सारणी के माध्यम से इंदिरा गाँधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत दी जाने वाली सहायता राशि के बारे में जानकारी देने जा रहें हैं। इन विशेष जानकारियों के बारे में जानने के लिए आप नीचे दी गयी सूचना पढ़ सकते हैं।

क़िस्त आर्थिक सहायता के रूप
में दी जाने वाली धनराशि
सहायता प्रदान करने का समय
प्रथम क़िस्त 1000 रूपए गर्भावस्था जाँच और
पंजीकरण होने पर
दूसरी क़िस्त 1000 रूपए दो प्रसव पूर्व
जांच होने पर
तीसरी क़िस्त 1000 रूपए संस्थागत प्रसव
होने पर
चौथी क़िस्त 2000 रूपए बच्चे की जन्म से 105 दिन तक सभी
नियमित टीके लगने तथा बच्चे के
जन्म का पंजीकरण होने की स्थिति में
पांचवी क़िस्त 1000 रूपए बच्चे के जन्म के 3 माह के भीतर
परिवार नियोजन के साधन अपनाने पर

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की विशेषताएं (Key Features)

  • इस योजना के तहत प्रारंभ में लगभग 77000 गर्भवती महिलाओं को शामिल किया गया है और योजना के लिए सरकार द्वारा 43 करोड़ का बजट पारित किया गया है।
  • शुरुआत में यह योजना राजस्थान के उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा और प्रतापगढ़ जैसे जिलों में सरकार द्वारा शुरू की गई है।
  • योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को कुल ₹6000 सरकार द्वारा पांच अलग-अलग किस्तों में सीधे उनके बैंक खाते में दिए जाएंगे।
  • योजना में आवेदन की प्रक्रिया को ऑनलाइन रखा गया है ताकि आवेदन आसानी से किया जा सके और इस प्रक्रिया से व्यक्ति के समय और धन दोनों की बचत होती है।
  • इस योजना के माध्यम से राजस्थान के लोगों को भी परिवार नियोजन के साधनों को अपनाने के लिए प्रेरित किया जाएगा, जिससे राज्य में जनसंख्या नियंत्रण की अधिक संभावना होगी।
  • राज्य में यह योजना राज्य खनिज फाउंडेशन खान एवं भूतत्व विभाग के तहत काम करेगी।
  • योजना के तहत मिलने वाली वित्तीय सहायता से माताएं भी अपने और अपने बच्चों के लिए पौष्टिक आहार खरीद सकेंगी।
  • योजना का लाभ दूसरी बार गर्भधारण करने वाली महिलाओं को मिलेगा।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना पात्रता (Eligibility)

  • योजना में सिर्फ राजस्थान की गर्भवती महिलाएं ही आवेदन कर सकेंगी.
  • वही महिला योजना में आवेदन कर सकेंगी, जो बीपीएल कैटेगरी में आती है.
  • इसके अलावा महिला अपने दुसरे बच्चे को जन्म दे रही हो.

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना दस्तावेज (Documents)

  • आधार कार्ड की फोटोकॉपी
  • बीपीएल राशन कार्ड की फोटो
  • बैंक डिटेल्स की फोटो कॉपी
  • चार पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • निवास प्रमाण पत्र की फोटोकॉपी
  • आय प्रमाण पत्र की फोटोकॉपी

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना आवेदन प्रक्रिया | Matritva Poshan Yojana Rajasthan Online Apply 

यह जन कल्याणकारी योजना राजस्थान सरकार द्वारा राजस्थान राज्य की गर्भवती महिलाओं के लिए शुरू की गई है। योजना शुरू होने के बाद अब तक योजना में आवेदन कैसे किया जा सकता है, इससे संबंधित कोई सूचना या अधिसूचना सरकार द्वारा उपलब्ध नहीं कराई गई है।

इसका साफ मतलब है कि अभी तक इस योजना में आवेदन की प्रक्रिया नहीं निकाली गई है। जैसे ही सरकार योजना में आवेदन की प्रक्रिया से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी देती है, हम उस जानकारी को इस लेख में अपडेट कर देंगे, ताकि आप योजना में आवेदन कर सकें और योजना का लाभ प्राप्त कर सकें।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना अधिकारिक Official Website

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया अभी शुरू की हुई है. लेकिन यदि आप योजना के बारे में जो भी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप राजस्थान सरकार की इस अधिकारिक वेबसाइट में जाकर देख सकते हैं।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना हेल्पलाइन नंबर | Helpline Number

इंटरनेट पर काफी सर्च करने के बाद हमें इस योजना का हेल्पलाइन नंबर मिला, जिसकी जानकारी हम आपको इस लेख में दे रहे हैं। इस लेख को पढ़ने के बाद भी यदि आप राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो योजना के लिए जारी टोल फ्री नंबर 0141-2716402 पर संपर्क कर सकते हैं।

होमपेज यहां क्लिक करें
अधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें

FAQ

Q : मातृत्व पोषण योजना कौन से राज्य में चल रही है?

Ans : यह योजना राजस्थान सरकार द्वारा राज्य के नागरिकों के लिए जारी हुई है।

Q : इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना कब प्रारंभ की गई?

Ans : यह योजना नवंबर, 2020 में शुरू हुई है।

Q : इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना कितने जिलों में है?

Ans : फ़िलहाल 4 शुरू है।

Q : इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए न्यूनतम आयु क्या है?

Ans : 19 साल अथवा उससे ज्यादा होनी चाहिए।

Q : इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को कितनी धनराशि प्रदान की जाएगी ?

Ans : गर्भवती महिलाओं को इंदिरा गांधी मातृ पोषण योजना के अंतर्गत 6 हजार रूपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

Q : योजना के माध्यम से चौथी क़िस्त के रूप में कितनी राशि लाभार्थी महिला को प्रदान की जाएगी ?

Ans : राजस्थान इंदिरा गाँधी मातृत्व पोषण योजना के माध्यम से चौथी क़िस्त के माध्यम से 2000 हजार रूपए की राशि लाभार्थी महिला को प्रदान की जाएगी।

Q : इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का हेल्पलाइन नंबर क्या है?

Ans :हेल्पलाइन नंबर 0141-2716402 है।

Leave a Comment