PM Swamitva Yojana 2021 : यह योजना ग्रामीणों को उनकी भूमि पर स्वामित्व का अधिकार देती है।

PM Swamitva Yojana : 24 अप्रैल 2020 को केंद्र सरकार द्वारा पीएम स्वामीत्व योजना (PM Swamitva Yojana) शुरू की गई थी। इस योजना के माध्यम से, सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले किसानों को उनकी जमीन का स्वामित्व देने के उद्देश्य से योजना शुरू की है।

PM Svamitva Yojana : भू-स्वामित्व योजना “प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना” के अंतर्गत ऊपर बताए गए राज्यों के ग्रामीण इलाकों में एडवांस टेक्नोलॉजी, ड्रोन की मदद से खेत, खलियान, तथा घरों को “Drone” की मदद से मैपिंग करके भू-संपत्ति मालिकों को आधिकारिक तौर पर “संपत्ति कार्ड” मिल सके जिससे कि वह अपने संपत्ति पर किसी भी तरह का लोन प्राप्त कर सकें |

ताकि किसान को अपनी जमीन का अधिकार मिल सके। अब आपके मन में यह सवाल आएगा कि आखिर (PM Swamitva Yojan ) पीएम स्वामित्व योजना क्या है, इसका लाभ कौन उठा पाएगा?

क्या है पीएम स्वामीत्व योजना | PM Swamitva Yojana

PM Swamitva Yojana (पीएम स्वामीत्व योजना) केंद्र सरकार द्वारा संचालित एक जन कल्याणकारी योजना है। इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले उन किसानों को उनकी जमीन का मालिकाना हक देना है जिनके पास जमीन के कागजात नहीं हैं। सरकार उन सभी प्रकार के किसानों को योजना में शामिल करेगी जो अपनी भूमि का मालिकाना हक प्राप्त करना चाहते हैं।

Also Read :  केंद्र सरकार शुरू करेगी 'श्रेष्ठ योजना', जानिए किन लोगों को मिलेगा फायदा

PM Swamitva Yojana का प्रमुख उद्देश्य क्या है

  • योजना का प्रमुख समाज क्षेत्र के सामाजिक सशक्तिकरण और ग्रामीण भारत को मजबूत बनाना है। ग्रामीण संचार और संचार व्यवस्था में गड़बड़ी के कारण ग्रामीण इलाको में स्वामित्व यांनी मालीकाना हक के लिये लढाई होती है।
  • इस योजना के लाभ के लिए विशेष रूप से किसान के पास संपत्ति के हिसाब से खेती होगी। ग्रामीण क्षेत्र में किसानो के लिये आने वाली हरप्रकार की योजना को विकसित करना आसान होगा। इस योजना का सबसे बडा उद्देश किसानो के साथ होनेवाला फर्जीवाडा रोकना है।
  • वहीं राजस्व विभाग के अधिकारियों ने ग्रामीण इलाकों में आबादी की जमीन का रिकॉर्ड एकत्रित करने का कार्य शुरू कर दिया है |
  • आबादी की जमीन का रिकॉर्ड एकत्रित करने के साथ-साथ विवादित जमीनों के मामलों के निपटारे के लिए भी डिटेल्स अरेंजमेंट किए जा रहे हैं |
  • दरअसल ब्रिटिश सरकार ने भारत में किसानों से लगान वसूलने के लिए खेती की जमीन का रिकॉर्ड तो एकत्रित कर लिया था |
  • परंतु आबादी की जमीन का रिकॉर्ड कभी एकत्रित नहीं हो पाया|
  • इसीलिए Svamitva Yojana की शुरूआत की गई है |
  • ताकि ग्रामीण इलाकों के नागरिकों को सीधे तौर पर लाभ प्राप्त हो सके|
  • स्वामित्व योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को “Record of rights” देने के लिए संपत्ति कार्ड का वितरण किया जाना है
  • Pm Svamitva scheme को 2020 से 2024 के बीच पूरा किया जाना है और 6.62 लाख गांवों को कवर किया जाना है।
  • PM Modi भू-संपत्ति मालिकों को “स्वामित्व योजना” के तहत संपत्ति कार्ड वितरण करने की योजना का शुभारंभ करेंगे |
  • पीएम स्वामित्व योजना ग्रामीण भारत में नागरिकों को वित्तीय स्थिरता लाने के लिए उन्हें ऋण और अन्य वित्तीय लाभ लेने के लिए एक वित्तीय संपत्ति के रूप में अपनी संपत्ति का उपयोग करने के लिए सक्षम करना।
  • ग्रामीण नियोजन के लिए सटीक भूमि रिकॉर्ड का निर्माण।
  • संपत्ति कर का निर्धारण, जो सीधे राज्यों में GPS के लिए जमा होता है, जहां इसे विकसित किया जाता है या फिर, राज्य एक्सचेंज में जोड़ें।
  • सर्वेक्षण के बुनियादी ढांचे और जीआईएस नक्शे (GIS maps) का निर्माण जो किसी भी विभाग द्वारा उनके उपयोग के लिए किया जा सकता है।
  • SVAMITVA Scheme–GIS maps मानचित्रों का उपयोग करके बेहतर गुणवत्ता वाली ग्राम पंचायत विकास योजना (Gram Panchayat Development Plan (GPDP) ) तैयार करने में सहायता करना।
  • संपत्ति संबंधी विवादों और कानूनी मामलों को कम करने के लिए

पीएम स्वामीत्व योजना के मुख्य लाभ क्या हैं

  1. भूमि से संबंधित धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार को रोकना सरकार द्वारा भूमि के डेटा को डिजिटल तरीके से संग्रहीत करने के लिए यह योजना है।
  2. योजना के लिए किसी भी व्यक्ति को व्यक्तिगत रूप से मालीकाना हक साबित करने के लिये किसी दप्तर में चक्कर लगाने कि जरुरत नहीं, सब ऑनलाईन जानकारी होगी।
  3. पीएम स्वामित्व योजना के तहत अब ग्राम पंचायत में आने वाले सभी किसानों को कर्ज की सुविधा मुहैया कराई जाएगी.
  4. योजना के तहत सरकार ड्रोन के माध्यम से सही प्रकार की भूमि का विवरण एकत्र करेगी।
  5. सबसे पहले आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँगे।
  6. अब आप इसके होमपेज पर पहुँच जायेंगे जहाँ आपको नया पंजीकरण का विकल्प दिखाई देगा।
  7. उस पर क्लिक करें आपके सामने आवेदन पत्र खुल जाएगा।
  8. जहाँ आपको सही प्रकार की आवश्यक जानकारी भरनी है और सभी आवश्यक दस्तावेजों को संलग्न करना होगा।
  9. फिर सबमिट बटन पर क्लिक करने के बाद, आपको लॉगिन करने के लिए आपके द्वारा पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एक संदेश प्राप्त होगा।
  10. जिसमें आपका यूजर आईडी और पासवर्ड दिया जाएगा।
  11. इनका इस्तेमाल करने के बाद ही आप पोर्टल पर लॉग इन कर पाएंगे।
  12. पीएम स्वामित्व योजना के तहत आपको किस प्रकार का कार्ड दिया जाएगा
  13. इस योजना के तहत आपको सरकार द्वारा एक संपत्ति कार्ड प्रदान किया जाएगा, जो आपकी जमीन के स्वामित्व का प्रमाण पत्र होगा।
Also Read :  Aam Aadmi Bima Yojana 2022 Apply Online | आम आदमी बीमा योजना के लिये ऑनलाइन, ऑफलाइन अप्लाई कैसे करे, मानदंड, विशेषता और लाभ

स्वामित्व योजना कितने राज्यों शामिल होंगे?

Svamitva Yojana 6 राज्यों के 763 गांव के लोग लाभान्वित होंगे ,जिसमें उत्तर प्रदेश के 346, हरियाणा के 221, महाराष्ट्र के 100, मध्य प्रदेश के 44, उत्तराखंड के 50, और कर्नाटक के 2 गांव भी शामिल होंगे।

स्वामित्व योजना के अंतर्गत गांव को मानचित्र पर कैसे मैपिंग किया जाएगा?

ई ग्राम स्वराज के अंतर्गत पंचायती राज तथा राजस्व विभाग के अधिकारियों द्वारा इस कार्य को ड्रोन/Drone की मदद से किया जाएगा।

स्वामित्व योजना के अंतर्गत “संपत्ति कार्ड” कैसे डाउनलोड करें?

स्वामित्व योजना के अंतर्गत “संपत्ति कार्ड” कैसे डाउनलोड करें स्वामित्व योजना के अंतर्गत भू-संपत्ति मालिकों के मोबाइल फोन SMS द्वारा लिंक भेजा जाएगा| इसके अलावा आप लोग इस आर्टिकल पोस्ट को पूरा पढ़ें और अपनी “Property card download” को डाउनलोड करे।

Survey of Villages Abadi and Mapping with Improvised Technology In Village Areas

सर्वप्रथम आपको स्वामित्व योजना के https://svamitva.nic.in/svamitva/index.html आधिकारिक पोर्टल पर आना होगा |

PM Swamitva Yojana Guidelines (English) Download

 

Leave a Comment