PM Awas Yojana Big Update : प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा घर का सपना, तीन लाख नए आवेदकों को मिलेगा घर, ऐसे करें आवेदन

PM Awas Yojana Big Update : प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अब 3.61 लाख घरों को मिली मंजूरी! मोदी सरकार की कई लाभदायक सरकारी योजनाओं में से एक सरकारी योजना है जो सभी को आवास प्रदान करने पर केंद्रित है।

पीएम आवास योजना की केंद्रीय मंजूरी एवं निगरानी समिति (सीएसएमसी) की 56वीं बैठक में शहरी क्षेत्रों में 3.61 लाख घरों के निर्माण के प्रस्ताव को मंजूरी मिल गई है.

बैठक की अध्यक्षता आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने की। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घरों के निर्माण के संबंध में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से संबंधित मुद्दों को उठाया।

उन्होंने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा कि वे प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आने वाले मुद्दों को बिना देर किए हल करें ताकि घरों के निर्माण में तेजी लाई जा सके.

स्वीकृत मकानों की कुल संख्या 1.14 करोड़

प्रधानमंत्री आवास योजना घरों का निर्माण विभिन्न चरणों में है। पीएम आवास योजना मिशन के तहत स्वीकृत घरों की कुल संख्या अब 1.14 करोड़ है। इनमें से 89 लाख से अधिक घर निर्माणाधीन हैं और 52.5 लाख घर बनकर तैयार हो चुके हैं और लाभार्थियों को वितरित किए जा चुके हैं।

Also Read :  Jan Dhan Yojana : जन धन योजना में आपका खाता है, तो आपके खाते में पैसा आयेगा 

इस प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी का उद्देश्य शहरी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों की जरूरतों को पूरा करना है। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) या निम्न आय वर्ग या मध्यम आय वर्ग के लोग इस पीएम आवास योजना का लाभ उठा सकते हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत सामाजिक-आर्थिक एवं जाति जनगणना 2011 से एकत्रित आंकड़ों के अनुसार केवल वही लोग योजना का लाभ लेने के पात्र हैं जो बेघर हैं या एक या दो कमरों के कच्चे मकान में रह रहे हैं।

PM Awas Yojana : पीएम आवास योजना की विशेषताएं

प्रधानमंत्री आवास योजना की महत्वपूर्ण विशेषताएं नीचे दी गई हैं।

  • पीएम आवास योजना के तहत, सभी लाभार्थियों को 20 साल की अवधि के लिए आवास ऋण पर 6.50 प्रतिशत प्रति वर्ष की सब्सिडी ब्याज दर प्रदान की जाती है।
  • भूतल विकलांग और वरिष्ठ नागरिकों को अधिमानतः आवंटित किया जाता है
  • निर्माण के लिए टिकाऊ और पर्यावरण के अनुकूल प्रौद्योगिकी का उपयोग
  • इस योजना के तहत पूरा शहरी क्षेत्र शामिल है
  • योजना का क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी पहलू भारत के सभी वैधानिक शहरों में पहले चरण से लागू किया गया है

PM Awas Yojana : यह लक्ष्य है

1.85 लाख करोड़ रुपये की केंद्रीय सहायता के साथ पीएम आवास योजना के तहत कुल निवेश 7.52 लाख करोड़ रुपये है। अब तक 1.13 लाख करोड़ रुपये की राशि जारी की जा चुकी है। सचिव ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत देश भर में आवास निर्माण कार्य को निर्धारित समय के भीतर तेजी से पूरा करने पर जोर दिया ताकि वर्ष 2022 तक ‘सभी के लिए आवास’ के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके।

Also Read :  PM Kisan Mitra Yojana : अब किसान कृषि पर निर्भर नहीं रहेंगे, उन्हें इस योजना से कई लाभ मिलेंगे

PM Awas Yojana : ऐसे करें अप्लाई

  • सबसे पहले प्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmaymis.gov.in पर जाएं।
  • यहां मेनू में ‘नागरिक मूल्यांकन’ पर क्लिक करें और आवेदक श्रेणी का चयन करें।
  • अब आपको एक अलग पेज पर रीडायरेक्ट किया जाएगा जहां आपको अपना आधार विवरण दर्ज करना होगा।
  • अपने व्यक्तिगत विवरण, आय, बैंक खाते के विवरण और वर्तमान आवासीय पते के साथ ऑनलाइन PMAY आवेदन भरें।
  • अब कैप्चा कोड डालकर वेरिफाई करें और सबमिट करें।
  • मालूम हो कि इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जून 2015 में की थी।

पीएम मोदी ने 1.47 लाख से अधिक लाभार्थियों को पहली PMAY-G किस्त हस्तांतरित की

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (14 नवंबर) को त्रिपुरा की 1.47 लाख पीएम आवास योजना (पीएम आवास योजना) से अधिक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रधान मंत्री आवास योजना – ग्रामीण (पीएमएवाई-जी) की पहली किस्त का शुभारंभ किया। लाभार्थियों को हस्तांतरित साथ ही इस अवसर पर लाभार्थियों के बैंक खातों में सीधे 700 करोड़ रुपये से अधिक की राशि जमा की गयी.

आज पीएम आवास योजना के तहत दी गई पहली किस्त ने त्रिपुरा के सपनों को नई गति दी है. पहली किश्त का लाभ पाने वाले लगभग डेढ़ लाख परिवारों को मैं त्रिपुरा के सभी लोगों को दिल से बधाई देता हूं। 2016 में, राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में सभी के लिए आवास प्रदान करने के प्रयास में प्रधान मंत्री आवास योजना शुरू की।

PM Awas Yojana : आवेदन प्रक्रिया

  1. इस योजना के लिए सरकार ने आवास ऐप बनाया है। इस ऐप के जरिए ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोग अपने मोबाइल नंबर की सहायता से लॉग इन अकाउंट बना सकते हैं।
  2. लॉग इन करने के बाद आवश्यक जानकारी भर कर सबमिट करने के साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ उठाने वाला अपने मकान के विभिन्न चरणों की फोटो भी इसी की मदद से अपलोड कर सकता है।
  3. वह अपने मकान के निर्माण के दौरान मिलने वाली किश्तों को भी ऑनलाइन देख सकता है
  4. इस योजना की मॉनीटरिंग करने वाले अधिकारियों तक भी अपनी बात आसानी से पहुंचा सकते हैं।
  5. प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सहायता का भुगतान चार किस्तों में किया जाता है।
  6. इसकी किस्त नींव डालते वक्त, दूसरी किस्त निर्माण 50 फीसदी होने पर, तीसरी किस्त 80 फीसदी निर्माण होने पर और चौथी किस्त का भुगतान निर्माण पूरा करने के बाद मिलती है।
  7. अगर लाभार्थी स्वच्छ भारत अभियान के तहत घर में शौचालय का निर्माण भी करता है तो उसे इसके लिए अलग से 12,000 रुपए दिए जाते हैं।

Leave a Comment